पीएम मोदी ने पश्चिमी यूपी को जेवर एयरपोर्ट की दी सौगात

थिंक टैंक नीति आयोग ने देश में डिजिटल बैंक बनाने का किया प्रस्ताव
November 25, 2021
भारतीय नौसेना के बेड़े में शामिल हुई पनडुब्बी आईएनएस वेला
November 25, 2021

पीएम मोदी ने पश्चिमी यूपी को जेवर एयरपोर्ट की दी सौगात

Spread the love
नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पश्चिमी यूपी को जेवर एयरपोर्ट की सौगात दी। उन्होंने जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने जनसभा को भी संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारें सिर्फ घोषणाएं करती थीं, लेकिन हम ऐसा नहीं करते। उन्होंने कहा कि पहले दिल्ली और लखनऊ में खींचतान चलती रहती थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये भी कहा कि पिछली सरकारों ने लोगों को अंधेरे में रखा। पीएम मोदी ने आगे कहा कि पहले सरकारों के दौरान जिनके लिए किसानों से जमीन तो ली गई, लेकिन उनमें या तो मुआवजे से जुड़ी समस्या रही, या फिर सालों से जमीन बेकार पड़ी है। हमने किसान हित में, देश के हित में इन अड़चनों को भी दूर किया। हमने सुनिश्चित किया कि प्रशासन किसानों से समय पर भूमि खरीदे और तब जाकर 30 हजार करोड़ की इस परियोजना का भूमि पूजन करने के लिए आगे बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि क्वालिटी इन्फ्रास्ट्रक्चर की सुविधा सुनिश्चित की जा रही है। आज आम नागरिक की हवाई सफर का सपना भी पूरा किया जा रहा है। मुझे खुशी है कि अकेले यूपी में बीते वर्षों में 8 एयरपोर्ट से फ्लाइट शुरू हो चुकी है, कई पर अभी भी काम चल रहा है। हमारे देश में कुछ राजनीतिक दलों ने हमेशा अपने स्वार्थ को सर्वोपरी रखा है। इन लोगों की सोच रही है अपना स्वार्थ, अपने परिवार को ही विकास मानते थे। जबकि हम राष्ट्रप्रथम पर चलते हैं। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास, यही हमारा मंत्री है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों द्वारा किस तरह की राजनीति हुई, सबने देखा, लेकिन भारत विकास की राजनीति से नहीं हटा। कुछ समय पहले 100 करोड़ वैक्सीन डोज के कठिन पड़ाव को पार किया है। इसी भारत ने 2070 तक नेट जीरो के लक्ष्य तय किया। कुशीनगर में एयरपोर्ट का लोकार्पण किया है। यूपी में 9 मेडिकल कॉलेज को उद्घाटन किया गया। झांसी में डिफेंस कॉरिडोर के काम ने गति पकड़ी। पिछले हफ्ते पूर्वांचल एक्सप्रेसवे समर्पित किया गया। मध्य प्रदेश में बहुत भव्य आधुनिक रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया गया है। महाराष्ट्र में सैकडों किमी के हाईवे का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया। हमारी राष्ट्रसेवा के सामने कुछ राजनीतिक दलों की स्वार्थनीति नहीं टिक सकती। उन्होंने कहा कि आज देश में 21वीं सदी की आव्श्यकताओं को ध्यान में रखते हुए तेजी से काम चल रहा है। यही सशक्त भारत की गारंटी है। डबल इंजन की सरकार की प्रतिबद्धता से यूपी में अग्रणी भूमिका निभाएंगे। हम मिलकर आगे बढ़ेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि जिसे पहले की सरकारों ने झूठे सपने दिखाए, आज वही यूपी अंतर्राष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है। आज यूपी में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मेडिकल संस्थान, रेलवे, हाईवे, एयर कनेक्टिविटी मिल रही है। इसलिए आज देश और दुनिया के निवेशक कहते हैं यूपी यानी उत्तम सुविधा, निरंतर निवेश। यूपी की इसी अंतर्राष्ट्रीय पहचान को, नए आयाम दे रही है। उन्होंने कहा कि पहले जो सरकारें रहीं, कैसे पश्चिमी यूपी के विकास को नजरअंदाज किया, उसका एक उदाहरण ये जेवर एयरपोर्ट भी है। दो दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने इस प्रोजेक्ट का सपना देखा था, लेकिन बाद में ये एयरपोर्ट अनेक सालों तक दिल्ली और लखनऊ में पहले जो सरकारें रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा। यूपी में पहले जो सरकार थी, उसने तो बकायदा चिट्ठी लिखकर तब की केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस एयरपोर्ट के प्रोजेक्ट को बंद कर दिया जाए। अब डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से आज हम उसी एयरपोर्ट के भूमिपूजन के साक्षी बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं एक बात और कहूंगा। मोदी-योगी भी चाहते तो 2017 में सरकार बनते ही यहां आकर भूमि पूजन कर देते, फोटो खींचवा देते, अखबार में प्रेस नोट भी छप जाती और अगर ऐसा हम करते तो पहले की सरकारों की आदत होने के कारण हम कुछ गलत कर रहे हैं, ऐसा भी नहीं लगता। पहले आनन-फानन में रेबड़ियों की तरह प्रोजेक्ट की घोषणाएं होती थीं, लेकिन प्रोजेक्टस जमीन पर कैसे उतरेंगे, अड़चनों को दूर कैसे करेंगे, धन का प्रबंध कहां से करेंगे, इस पर विचार ही नहीं होता था. इस कारण से प्रोजेक्ट दशकों तक तैयार नहीं होते थे। घोषणा हो जाती थी, लेकिन हमने ऐसा नहीं किया इन्फ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति नहीं, राष्ट्रनीति का हिस्सा है। हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि तय समय पर ही काम पूरा हो जाए। देरी होने पर हमने जुर्माने का प्रवधान किया है। पीएम मोदी ने कहा कि हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान रोजगार के हजारों अवसर बनते हैं। सुचारू रूप से चलाने के लिए भी हजारों की जरूरत होती है। पश्चिमी यूपी के हजारों लोगों को नए रोजगार देगा। राजधानी के पास होने से पहले ऐसे क्षेत्रों को एयरपोर्ट से नहीं जोड़ा जाता था। माना जाता था कि दिल्ली में तो है ही, हमने इस सोच को बदल। आज देखिए हमने हिंडन एयरपोर्ट को यात्री सेवाओं के लिए चालू किया। इसी प्रकार हरियाणा के हिसार में भी एयरपोर्ट पर तेजी से काम चल रहा है। जब एयर कनेक्टिविटी बढ़ती है तो टूरिज्मभी बढ़ता ह। माता वैष्णो देवी की यात्रा हो या केदारनाथ यात्रा, वहां श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के 7 दशक बाद पहली बार यूपी को वो मिलना शुरू हुआ है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है। डबलइंजन की सरकार के प्रयासों से आज यूपी देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में बदल रहा है। रैपिड रेल कॉरिडोर हो, एक्सप्रेस वे हो, मेट्रो कनेक्टिविटी पर काम हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज हम 85 फीसदी विमानों को एमआरओ सेवा के लिए विदेश भेजते हैं और इस काम के पीछे हर साल 15 हजार करोड़ रुपये खर्च होते हैं। 30 हजार करोड़ में ये प्रोजेक्ट बनने वाला है। हजारों करोड़ रुपये खर्च होते हैं, जिसका ज्यादातर हिस्सा दूसरे देशों को जाता है। अब ये एयरपोर्ट इस स्थिति को भी बदलने में मदद करेगा। इसके माध्यम से पहली बार देश में एंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल कार्गो हब की कल्पना भी साकार हो रही है। इससे इस पूरे क्षेत्र के विकास को एक नई गति मिलेगी। एक नई उड़ान मिलेगी. हम सभी ये जानते हैं कि जिन राज्यों की सीमा समंदर से सटी होती है, उनके लिए बंदरगाह, पोर्ट, बहुत बड़े एसेट होते हैं, लेकिन यूपी जैसे लैंडलॉक राज्यों के लिए यही भूमिका एयरपोर्ट की होती है। यहां अलीगढ़, मथुरा, मेरठ, आगरा, बिजनौर, मुरादाबाद, बरैली ऐसे अनेकों औद्योगिक क्षेत्र हैं। यहां सर्विस सेक्टर का इकोसिस्मट भी है. और एग्रीकल्चर सेक्टर में भी पश्चिमी यूपी की अहम हिस्सेदारी है। अब इन क्षेत्रों का सामर्थ्य भी बढ़ जाएगा। अब यहां के किसान साथी, फल, सब्जी, मछली जैसी जल्दी खराब होने वाली उपज को सीधे एक्सपोर्ट कर पाएंगे। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2014 के बाद भारत के नागरिकों ने बदलते हुए भारत को देखा है। केवल सामान्य दिनों में ही नहीं, वैश्विक महामारी कोरोना के दौरान भी कैसे अपने एक-एक नागरिक की रक्षा करनी है, कैसे उसके जीवन और जीविका की रक्षा करते हुए सुरक्षा कवच देना है। उन्होंने कहा कि पश्चिमी यूपी के लिए ये महत्वपूर्ण क्षण है. कभी यहां के किसानों ने यहां के गन्ने की मिठास को बढ़ाने का काम किया था, लेकिन कुछ लोगों ने यहां दंगों की श्रृंखला खड़ी थी, उन्होंने कहा कि उन 7 हजार किसानों को धन्यवाद करूंगा जिन्होंने बिना किसी विवाद के अपनी जमीन खुद आकर दी। वहीं नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सपना पूरा होने की चमक आज जेवर में देख रही है और वो चमक इसलिए दिख रही है, क्योंकि उस सपने को साकार करने का संकल्प प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिया था, वो पूरा होने जा रहा है। इस हवाई अड्डे को बहुत पुराना इतिहास है। इस माटी पर 34 हजार करोड़ का निवेश आने वाला है। 2024 तक पहला फेज पूरा होगा। करीब 120 लाख यात्रियों का आवागमन होगा। इस एयरपोर्ट से आने वाले समय में नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद सह‍ित कई इलाकों में विकास होगा। 1 लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे।